बेटी ने अपने पिता से कहा मैं जैसे ही एक प्रॉब्लम से निकलती हूँ दूसरी प्रॉब्लम में फस जाती हूँ।

क्या आपकी लाइफ में सिर्फ प्रॉब्लम आ रहे है ? Motivational Story in Hindi .

Motivational Story in Hindi .www.luiehindi.com

Most of us are troubled by negative thoughts in our mind. मतलब ज़्यादातर लोग तो बस इस लिए परेशान रहते है. क्योंकि वे अपने माइंड में गलत विचार रखते है। क्योंकि जैसी आपकी मनस्तिथि (Mind Set) होगी वैसी ही आपकी परस्तिथि होगी। ये बात बिलकुल सही है। अगर आप अपनी लाइफ में परिस्तिथि बदलना चाहते है ?  तो आपको मनस्तिथि बदलना पड़ेगा। फिर आपको परिस्तिथि बदलने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी वह अपने आप बदल जायेगी।  चुकी यही प्रकृति का नियम है। 

बेटी ने अपने पिता से कहा मैं जैसे ही एक प्रॉब्लम से निकलती हूँ दूसरी प्रॉब्लम में फस जाती हूँ। Motivational Story in Hindi .

एक बच्ची ने अपने पिता से शिकायत की मैं जैसे ही एक Problem से निकलती हूँ दूसरे Problem में फस जाती हूँ। बस एक Problem से निकलती हूँ दूसरे में फस्ती जाती हूँ बच्ची पिता से आहत होते हुए बोली, उसकी जिंदगी मुश्किलों से भरी हुई है। वह चुनौतियों से सामना करते-करते थक गयी है और वह नहीं जानती की वो इनसे कैसे छुटकारा पाये। 
पिता जी बोले मेरे साथ आओ, बची पिता जी के पीछे-पीछे जाने लगी। पिता जी Kitchen में गये तीन बर्तन उठाया और उसमे पानी भर कर उबलने के लिए रख दिया। बच्ची को कुछ समझ नहीं आ रहा पिता जी उसे क्या समझाने की कोशिश कर रहे है। 

जब पानी उबलने लगा तो उसके पिता ने एक बर्तन में आलू डाला, दूसरे बर्तन में अंडा और तीसरे में कॉफी के कुछ दाने डाले। और अपनी बेटी से बिना कुछ बोले बैठ जाते है बेटी को भी अभी कुछ समझ नहीं आ रहा पिता जी क्या कर रहे है?  20Min बाद पिता जी गैस को बंद कर देते है। फिर आलू को निकाल कर एक कटोरी में रख देते है इसी तरह अंडे को भी एक कटोरी में रख देते है। और कॉफी को एक Cup में दाल देते है। बेटी को अब भी कुछ समझ नहीं आ रहा ?


Post a Comment

0 Comments